MP TET MINUS MARKING खत्म की गई पढ़े पूरी जानकारी

मध्यप्रदेश में शिक्षक भर्ती mp tet minus marking को लेकर कुछ समय पहले जो बड़ा बदलाव किया गया था उसको समाप्त कर दिया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

राज्य सरकार की तरफ से इसकी सूचना जारी की गई जिसमे कहा गया है की मधयप्रदेश में होने बाली वर्ग 1 और वर्ग 2 की एलिजिबिलिटी टेस्ट से माइनस मार्किंग को खत्म किया जाता है।

पात्रता परीक्षा से माइनस मार्किंग हटा देने से छात्रों को बड़ी राहत मिली है।

MPTET MINUS MARKING क्या है पूरा मामला

कुछ समय पहले राज्य सरकार ने शिक्षक भर्ती को लेकर नए नियम जारी किए थे जिसमे कहा गया था की वर्ग 2 और वर्ग 1 की पात्रता परीक्षा में माइनस मार्किंग का प्रावधान किया जा रहा है। इसके साथ ही यह भी कहा गया था की 2018 में जो पात्रता परीक्षा हुई थी उसमे जो भी छात्र पास कर चुके है उन्हे अब दुबारा से पेपर देने की जरूरत नही है। उसकी वैलिडिटी लाइफ टाइम कर दी गई है।

यानी की को छात्र पहले 2018 में पात्रता परीक्षा पास कर चुके है उन्हे दुबारा पेपर नही देना है।

परंतु छात्रों द्वारा यह कह कर विरोध किया जा रहा था पहले जो पेपर हुआ था उसमे माइनस मार्किंग नही थी। अब माइनस मार्किंग करने से पहले वाले छात्रों को फायदा मिल जायेगा। एसे में या तो उनकी पहली बाली पात्रता परीक्षा आगामी शिक्षक भर्ती के लिए अमान्य की जाए। या अब जो पेपर कराया जा रहा है उससे भी माइनस मार्किंग को खत्म किया जाय।

इसके साथ ही अभ्यर्थियों का कहना था की अन्य किसी भी राज्य में पात्रता परीक्षा में माइनस मार्किंग नही है है फिर चाहे वो uptet हो या राजस्थान TET. तो फिर मध्यप्रदेश सरकार ही शिक्षक पात्रता परीक्षा में माइनस मार्किंग क्यों लागू कर रही है

राज्य सरकार को भी छात्रों का यह पॉइंट उचित लगा जिसके चलते सूचना जारी करके mptet minus marking को खत्म कर दिया गया है।

आधिकारिक पत्र में क्या कहा गया है

पात्रता परीक्षा नियम पुस्तिका में संशोधन विषयक इस विषय के साथ लोक शिक्षण संचालनालय मध्यप्रदेश के द्वारा यह पत्र जारी किया गया।

जिसमे कहा गया है की उक्त विषयांतर्गत विभाग द्वारा प्रेषित उच्च माध्यमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक-गायन वादन, माध्यमिक शिक्षक खेलकूद, प्राथमिक शिक्षक-नृत्य, प्राथमिक शिक्षक खेलकूद, प्राथमिक शिक्षक-गायन वादन की नियम पुस्तिका में मूल्यांकन पद्धति अंतर्गत ऋणात्मक मूल्यांकन का प्रावधान किया गया था। नवीन प्राप्त “प्रशासकीय निर्देशो के अनुक्रम में सभी पदो की पात्रता परीक्षा की नियम पुस्तिकाओ में ऋणात्मक मूल्यांकन को विलोपित किया जाता है”।



अतः उक्तानुसार संशोधित रूलबुक जारी करे। संशोधन अनुसार ही परीक्षा का आयोजन करने का कष्ट करे। अनुरोध है कि उक्त संशोधन का व्यापक प्रचार प्रसार करने का भी कष्ट करे।

अगर पात्रता परीक्षा से माइनस मार्किंग खत्म नहीं की जाती तो ये से में छात्रों को पात्रता परीक्षा पास करना भी मुश्किल हो जाता।mptet minus marking को खत्म करने से छात्रों को बड़ी राहत मिली है।

शिक्षक भर्ती से जुड़ी सभी खबर के लिए आधिकारिक वेबसाइट

यह भी पढ़ें – वर्ग 2 विस्तृत सिलेबस

AKHILESH
Follow me
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *